Top Shayari

जरूरतें भी जरूरी हैं, जीने के लिये लेकिन……
तुझसे जरूरी तो, जिदगी भी नही…..

 

आँखों की गुस्ताखियाँ माफ हो
इक टुक तुम्हें देखती है
जो बात कहना चाहे ज़ुबां
तुमसे ये वो कहती है .



कौन कहता है
दुनिया में
हमशक्ल नहीं होते….
देख मेरा दिल
तेरे दिल से
कितना मिलता है…

 

इतनी नाज़ुक मिज़ाज़ है radha मेरी ,

जुगनू पकड़ के हाथ जला🔥 बैठी !!

 

मैंने अपना ग़म आसमान को सुना दिया…
शहर के लोगों ने बारिश का मजा लिया😰

 

एक बार 👧👈 उसके 😭 रोने पर 👧

👈उसके 💋होंठो को ❔क्या 💏 चुम लिया…..

अब तो 👧पगला हर 🌄रोज 😭रोने का 😱बहाना करता है……..💐

 

 

चीटियां लग गयीं हैं नमक के डिब्बे में भी..!
मैंने कहा था न कि तुम कुछ छुआ मत करो..!!
इतना मीठा मीठा है तू…….

 

 

सोच रहा हूँ छोड़ कर शेर व शायरी..!!

तुम्हारे निचले होटों पे एक किताब लिखूँ.



सुनो
💕आज तुझे एक राज की बात बताता हूँ…
मैं तुझे रोज अपने दिल में दुल्हन की तरह
सजाता हूं 💕

 

 

💞💫 कौन कहता है कि आपकी तस्वीर बात नहीं करती…!!!
💕💕💕😊
हर सवाल का जवाब देती है बस आवाज़ नहीं करती…!!💫💞

 

 

धड़कता है मेरे सीने में
रहता है किसी और के साथ
इस पागल दिल को रोकना
ना तेरे हाथ और
ना मेरे बस की बात💕

 

Tu na aana meri ayadat ko..!

Tera ehsaan maar dalega..

 

💦💔Rafta-Ragfta Wo Meri Hasti Ka Saman Ho Gye..!

Pahle Jaan,phir jaan-E-jaan,phir Jaan-E-janaan Ho Gaye..💔💦

 

💦💔Puraane shehar ke Logon mein ek Rasm-E-murawwat Hai…!

Humare paas aa jaao kabhi dhokha nahin Hoga. !💔💦

 

“अपनी वफ़ा का इतना दावा ना किया कर,

मैंने रूह को जिस्म से बेवफाई करते देखा है !!”

 

मुझे करवट भी बदलने नहीं देता ,

ये तेरा ख़्वाब बडा ही शरारती हैं!❤🌹

 

“कुछ लोग इतने गरीब होते है की,

देने के लिए कुछ नहीं होता तो धोखा दे देते है !!”

 

 “वो जिनकी आँखों में चमकते थे वफ़ा के मोती,

यकिन मानो वो आँखे भी आज बेवफा निकली !!”

 

एक नज़र देख के सौ नुक्स निकाले मुझमें।

फिर भी मैं ख़ुश हूँ कि मुझे गौर से देखा उसने।।

 

 💦💔Hasratey, Khawhishey, Tamannaye, Aarzooaye,..

Kitni Laashey Dafn Hai Iss Dil Ke Mazar Mai..💔💦

 

💦💔Kisi ki Nafrat ka Mustahiq banna bhi Asan kaha..!

Ankho me khatakne ke liye bhi Khoobi chahiye..💔💦

 

💦💔Shahar-E-Arab ko Jana ZaruRi To Hai Magar..!

ShaaDi yateeM ki Bhi EK Haj ka sawaab Hai..💔💦

 

💦💔Na Hona Be-Murawat, Na Be-Rukhi Dikhana..!

Bs Sadgi Se Kehna Tum Bojh Ban Gaye Ho…💔💦



💦💔Chain Milta Hai Dard Likhta Hon..!

Roz Ka Qissa Ab Bhi Likhta Hon…💔💦

 

💦💔Gwahi Kese Tot’ti Mamla Khuda Ka Tha,,​​

​​Mera Aur Us Ka Rabta Tu Hath Aur Dua Ka Tha…!💔💦

 

 

💦💔Ye Dil Tujhe itni shiddat se chahta kyu Hai..!

Har saans ke sath Tera Hi Naam Aata kyu Hai..💔💦

 

💦💔Tu kitna Bhi mujhse talkh-E-Talluk Rakhle..!

Zikr phir Bhi Tera meri zaban pe Aata kyu Hai..💔💦

 

 

💦💔Kisi zulf ke saaye mein hi humain Neend Aati thi,..!

Ab muyassar kisi Deewar ka saaya Bhi Nahee..💔💦

 

💔Wo Mujhe Tuut Ker Chahe Gi Aur Bhool Jayegi..!

Mujhe Khabar Thi Usey Ye Hunar Bhi Aata Hai..💔💦

 

ना चूरा तु मेरी नज़रो को अपनी निगाहो से

दिल को सम्भालना मुश्किल हो जाता है तेरी इन अदाओ से❤

 

💦💔Din-Ba-Din Badti Gayi is Husn Ki Ranaaiyan..!

Pahle.Gul, phir Gulbadan, Phir Gulabdamaan Ho Gye…💔💦

 

 

शाम तन्हाई का आलम,रोशन जहां किये बैठे हैं…!

मेरे महबूब को इक्तिला दे कोई…कि हम दिल जवां किये बैठे हैं…!!

 

 अपने अंदर ख़ुशी ढूँढना आसान नहीं
और
एक सच ये भी है,
इसे अपने अंदर के अलावा और कहीं ढूँढना संभव नहीं!

 

हर ख़्वाब को अपनी साँसों में रखो,

हर मंज़िल को अपनी पनाहों में रखो

जीत ही जीत होगी तुम्हारी,
बस अपने लक्ष्य को अपनी आँखों में रखो !!

 

 तनहइयो के आलम की ना बात करो जनाब, नहीं तो फिर बन उठेगा जाम, और बदनाम होगी शराब..!!

 

 लाख बंद करे मैख़ाने ज़माने वाले, दुनिया में कम नहीं आँखों से पिलाने वाले..!! 

 

 जख़्म भरे नहीं पुरे, वो और दर्द देने लगे, पूछा हमने के क्या गलती हैं, तो मुझे देखकर मुस्कुराने लगे, और हम उनकी मुस्कराहट के लिए, ख़ुशी से दर्द सहने लगे..!!

 

 तूफ़ान से लड़ा था तेरे लिए, जिंदगी से लड़ा था तेरे लिए, अपनों से दूर हुआ था तेरे लिए, आज दुनिया से जा रहा हूं सिर्फ तेरे लिए..!!

 

इश्क़ तुझसे करती हू मैं ज़िन्दगी से ज़्यादा, मैं डरती नहीं मौत से तेरी जुदाई से ज़्यादा, चाहे तो आज़मा ले मुझे, मेरी ज़िन्दगी में कुछ नहीं तेरी मोहब्बत से ज़्यादा..!!

 

 दगा देना तुम्हारी आदत है, फिर क्यूँ पास आने की इजाज़त माँगते हो, तुम तो भूल गये थे नाम तक मेरा, फिर आज क्यूँ दिल में रहने की इजाज़त माँगते हो..!!



प्यार में फरमाइश होती है, दिल में मिलने की खवाइश होती है, आप कहते है हम आपको याद नहीं करते है, याद तो उन्हें करते है जिन्हे भूलने की ख्वाहिश होती है..!!

 

 

 ऐ खुदा मुझे मेरी
जिंदगी से मिला दे,
गर हो नामुमकिन तो
मौत ही दिला दे…………
बगैर उनके टुट सा गया हूँ
कम-से-कम अब तो ये
बुझा हुआ चेहरा खिला दे
ऐ खुदा मेरी दुआओं का
कुछ तो सिला दे,,,,,,,,,
मुझे मेरे इश्क से मिला दे।

 

 आपकी नयी सुबह इतनी सुहानी हो जाये, दुखों की सारी बातें आपकी पुरानी हो जायें, दे जाये इतनी खुशियां यह नया दिन, कि ख़ुशी भी आपकी दीवानी हो जाये।

 

 बदलना आता नहीं हमे मौसम की तरह, हर इक रुत में तेरा इंतज़ार करते हैं, ना तुम समझ सकोगे जिसे क़यामत तक, कसम तुम्हारी तुम्हे हम इतना प्यार करते हैं.

 

 ना रूठना हमसे हम मर जायेगे, दिल की दुनीया तबाह कर जायेगे, मोहबत की हे हमने कोई मजाक नही, दिल की धड़कन तेरे नाम कर जायेगे.

 

तुझे पलकों पे बिठाने को जी चाहता है तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है, खूबसूरती की इंतेहा हैं तू, तुझे ज़िन्दगी में बसाने को जी चाहता है.

 

फूल खिलते हैं बहारों का समा होता है, ऐसे मौसम में ही तो प्यार जवां होता है, दिल की बातों को होठों से नहीं कहते, ये फ़साना तो निगाहों से बयाँ होता है।

 

हमसे कोई खता हो जाये तो माफ़ करना, हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना, दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं, पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।

 

 मोहब्बत कि ज़ंज़ीर से डर लगता हे, कुछ अपनी तफलीक से डर लगता हे, जो मुझे तुजसे जुदा करते हे, हाथ कि वो लकीरो से डर लगता हे।

 

वक़्त बदलता है ज़िन्दगी के साथ;
ज़िन्दगी बदलती है वक़्त के साथ;
वक़्त नहीं बदलता अपनों के साथ;
बस अपने बदल जाते हैं वक़्त के साथ…✍🏼

 

 मानते हैं सारा जहाँ तेरे साथ होगा;
खुशी का हर लम्हा तेरे पास होगा;
जिस दिन टूट जाएँगी साँसे हमारी;
उस दिन तुझे हमारी कमी का एहसास होगा…✍🏼

 

 रास्ते में पत्थरों की कमी नहीं है;
मन में टूटे सपनो की कमी नहीं है;
चाहत है उनको अपना बनाने की मगर;
मगर उनके पास अपनों की कमी नहीं है…✍🏼

 

💞 तेरा मेरा रिश्ता इतना खास हो जाये
कि तू दूर रहकर भी मेरे पास हो जाये💕
💞 मन से मन का तार जुड़े कुछ इस तरह
कि दर्द हमें हो और अहसास तुम्हे हो जाए…।💕

 

 “फ़ितरत तो कुछ यूँ भी है, इंसान की…
‘बारिश’ खत्म हो जाये तो,

‘साहेब’…

…’छतरी’ बोझ लगने लग जाती है…!!!”✍🏿…

 

💕मेरी धड़कन की आवाज़ सुननी हो तो, मेरे सीने पर अपना सर रख,💕

वादा है मेरा ज़िन्दगी भर तेरे कानों में, मेरी मोहब्बत गूंजेगी…💕

 

 बिन दिल के जज्बात अधूरे ,
बिन धड़कन अहसास अधूरे ..!!

बिन साँसों के ख्वाब अधूरे ,
बिन तेरे हम कब हैं पूरे…



वो तो दिवानी थी मुझे तन्हां छोड़ गई;
खुद न रुकी तो अपना साया छोड़ गई;
दुख न सही गम इस बात का है;
आंखो से करके वादा होंठो से तोड़ गई।

 

एक दिन….. पी गया मैं……. प्यास अपनी …………….
………कौन….. काटता दरिया के….. हर रोज़ चक्कर…………..

 

 तुझे पलकों पे बिठाने को जी चाहता है तेरी बाहों से लिपटने को जी चाहता है, खूबसूरती की इंतेहा हैं तू, तुझे ज़िन्दगी में बसाने को जी चाहता है.

 

 तुम्हारी दिल्लगी तो देखो….
मेरे दिल पर भारी है….

तुम तो चले गये हँसकर….
यहाँ बरसात जारी हैं….

 

 

 करते हैं हम तुमसे मोहब्बत,

हमारी खता यह माफ़ करना,

है अगर बदनाम मोहब्बत हमारी,

तुम प्यार को बदनाम मत करना।

 

💞 उसके रूह की वो छुअन …

और मेरा यूँ पिघल जाना …
💕💘
बस यही तो है इश्क 💞

 

अगर किसी को कुछ देना है तो उसे अच्छा वक्त दो!
क्योंकि आप हर चीज़ वापिस ले सकते हो;
मगर किसी को दिया हुआ अच्छा वक्त वापिस नही ले सकते!

 

 अगर ज़िंदगी मे जुदाई ना होती,
तो कभी किसी की याद आई ना होती,
साथ ही गुज़रता हर लम्हा तो,
शायद रिश्तों मे यह गहराई ना होती..

 

अगर ज़िंदगी मे जुदाई ना होती,
तो कभी किसी की याद आई ना होती,
साथ ही गुज़रता हर लम्हा तो,
शायद रिश्तों मे यह गहराई ना होती..

 

 अपनी आँखों को बनकर ये ज़ुबान,
कितने अफ़साने सुना लेते है,
जिनको जीना है मोहब्बत के लिए,
अपनी हस्ती को मिटा लेते है….

 

एक दिन जब हम दुनिया से चले जायेंगे;

मत सोचना आपको भूल जायेंगे.

 

बस एक बार आसमान की तरफ देख लेना;

मेरे आँसू बारिश बनके बरस आयेंगे.

 

🍃” कुछ तो हैं बात ..दरमियां तेरे- मेरे,
तो बिन कहे बात भी हो जाती हैं

हाल दिल का पहूँच जाता हैं दिल तक,
बिन मिले ही अक्सर मुलाकात हो जाती हैं 🍃

 

वो दिन दिन नही..वो रात रात नही..
वो पल पल नही जिस पल आपकी बात नही..
आपकी यादो से मौत हमे अलग कर सके.
मौत की भी इतनी भी औकात नही
🌹🌹🌹

 

 वो ना आये उनकी याद वफ़ा कर गई
उनसे मिलने की तमन्ना सुकून बर्बाद कर गई
आहट हुई तो सोचा असर दुआ कर गई
दरवाजा खोला तो देखा मजाक हवा कर गई ……….

 

कच्ची दीवार हूँ ठोकर ना लगाये मुझे
अपनी नज़रों में बसा कर ना गिराये मुझे
उनको आँखों में तसावुर की तरह रखता हूँ
दिल में धड़कन की तरह वो भी बसाए मुझे।

 

मोहब्बत रूह में उतरा हुआ
मौसम है जनाब
ताल्लुक कम रखने से मोहब्बत
कम नही होती !!💖💖💖💖💖💖💖💖

 

 ग़ज़ल भी मेरी है…
पेशकश भी मेरी है…
मगर…
लफ्ज़ो में छुप के जो बैठी है…
वो बात तेरी है …😊💕💕



💕तुम्हारी शायरी  में हमने देखा,, अजब सी चाहत झलक रही है.❣✍*
💕हमारी ग़ज़ल को पढ़ के देखो ,, तुम्हारी खुशबु महक रही है.💕✍

Topstatus4you © All rights reserved 2019