Get Free whatsapp & Facebook Status

TOP 99+ Romantic Shayari

 

जरुरी नही कि कुछ तोड़ने के लिए पत्थर ही मारा जाए,

लहजा बदल कर बोलने से भी बहुत कुछ टूट जाता है..




तन्हाई में जो चूमता है मेरे नाम के हरूफ फ़राज़

महफ़िल में वो शख्स मेरी तरफ देखता भी नहीं

 

 कोई न आएगा तेरे सिवा मेरी जिंदगी में “फ़राज़”

एक मौत ही है जिस का हम वादा नही करते




कितना नाज़ुक मिज़ाज़ है उसका कुछ न पूछिये “फ़राज़”

नींद नही आती उन्हें धड़कन के शोर से

 

अपने हाथों की लकीरें न बदल पाया “मोहसिन”

खुशनसीबो से बहुत हाथ मिलाये हम ने



कट गया पेड़ मगर ताल्लुक की बात थी,

बैठे रहे ज़मीन पर वो परिंदे रात भर।

 

शब्दों के इत्तेफाक़ में यूँ बदलाव करके देख,

तू देख कर न मुस्कुरा बस मुस्कुरा के देख।



More Status:-

Bill Gates Inspirational Quotes

Best Romantic Love Status For Girls

world best love status

love urdu status



इश्क से तबियत ने जीस्त का मजा पाया,

दर्द की दवा पाई दर्द बे-दवा पाया।

 

तुम मेरी तस्वीर बना के लाई हो,

यानी अब मै दीबार से लगने वाला हूँ

 

कहते तो हो यूँ कहते, यूँ कहते जो यार आता
,
सब कहने की बात है कुछ भी नहीं कहा जाता।

 

 तुम्हारी याद भी ‘मोहसिन’ किसी मुफ़लिस की पूंजी है,

जिसे हम साथ रखते है जिसे हम रोज गिनते है



ज़िन्दगी बहुत ख़ूबसूरत है, सब कहते थे,

जिस दिन आपको देखा, यकीन भी हो गया

 

रो रो कर हाल ऐ दिल बता दू में तुम्हे लेकिन..
ये आँखे भी मेरी तन्हाई में रोना पसन्द करती हे

 

अजीब रिवाज है हमारे मुल्क का भी,
,
नीयत आदमियो की खराब होती है

और,,,

घूंघट औरतों से निकलवाते है !!👈🏻🙄

 

 

मेरे महबूब में है फूलों वाली हर
बात,

ये ज़रूरी तो नहीं कि गुलाबी हो
हर गुलाब…..

 

कसम खुदा की मैंने उसको तुम्हें समझकर चूमा था
फिर तुम दोनों बहनें भी तो दिखने में इक जैसी हो

 

“Kuchh nahin hai aaj, mere lafzon ke guldaste mein;

Kabhi kabhi meri khamoshiyan bhi padh liya karo.”

 

Dil Bujhne Laga Aatish-e-Rukhsaar Ke Hote,

Tanha Nazar Aate Hain, Gham-e-Yaar ke Hote.



उसके चेहरे की चमक के सामने सब सादा लगा

आसमान पे चाँद पूरा था मगर आधा लगा

 

 

उफ़ वो संगेमरमर से तराशा हुआ शफ़्फ़ाफ़ बदन

देखने वाले जिसे ताज महल कहते हैं

 

आँखे झीलों की तरह होंठ गुलाबो जैसे

अब भी होते है कई लोग किताबो जैसे

 

 अधूरा होकर भी मेरा इश्क़ कामिल है ,

तू मुझसे बिछड़ के भी मेरी जिंदगी में शामिल है।।

 

 Kabhi toota nahi mere dil se teri yaad ka tilism,

Guftagu jis se bhi ho khayal tumhara hi rehta hai..

 

कोई गज़ल लिखूँ या तुम्हें सोच कर तुम्हारे नाम का पहला अक्षर..
कलम को सुकून उतना ही मिलता है।

 

 चीटियां लग गयीं हैं नमक के डिब्बे में.

मैंने कहा था न कि तुम कुछ छुआ मत करो…….



 आंखें भी बोल उठी,
थक कर एक दिन ‘
ख्वाब वो देखा करो,
जो पूरे हों ….
रोज़-रोज हमसे भी,
रोया नहीं जाता….

 

 पैग़ाम -ऐ -शौक को इतना तवील मत करना ऐ “क़ासिद”

बस मुकतसर उन से कहना के आँखें तरस गयी हैं

 

कैसे मुमकिन था किसी और वसीले से इलाज ….
इश्क़ का रोग था , जहर के पीने से गया ..!!

 

 हम को अपनी समझ नहीं आती ,

हमें ज़माना काया खाक समझेगा



इश्क़ ” का बँटवारा , रज़ामन्दी से हुआ …

चमक उन्होंने बँटोरी , तड़प हम ले आये !!

 

Woh Mil Geya To Bichhadna Padega Phir

Isi Khayal Se Hum Raaste Badalte Rahe!

 

 वो ख्वाब में भी देखो दबे पांव आये है…

चरचा गवारा उनको सरे आम नहीं है…!!!

 

Khoon Bahana Pada Apna,
Rago me Bass Gayi thi”WoH”

 

बच्चों को पैरों पर, खड़ा करना था,

पिता के घुटने, इसी में जवाब दे गये ।



मै तुझे ता उम्र याद आऊं

भूल ने वाले तेरी सज़ा हो यह

 

तेरे जाने के बाद बदला है

पहले वालो का रंग काला था

 

नफरतों की सूली पर बेगुनाह झूले है,
धर्म तो याद है बस इंसानियत भूले है…

 

Dil Me Uthe Is Drd Ki

Intiha Kbi Na Puchna.. ..

 

 

Mere Jazbaat Ke Katl Ka Iljaam Uske Sir Kyu Nhi Aaya

Meri Aankhein Khuli Thi Tamam Umar Wo Ghar Kyu Nhi Aaya

 

Main Ne Zindagi Ko Rotae Dekha Hai

Main Nae Maut Ko Hanste Bhi Dekha Hai .. .

 

 Zikar Hua Jab Khuda Ki Rehmaton Ka

Humne Khud Ko Khushnaseeb Paya.. ..

 

 Kai So Bar Hum Uljhe

Ik Kaghaz Ki Kashti Se. ….

 

Ab is se badh kar bhala kya ho viraasat faqeer ki ?

Bachchon ko apni bheekh ke pyaale to de gaya …!



Le de ke wohi shakhs hai is sheher mein apna,

Duniya kahin usko bhi samajhdaar na kar de …!

 

Teri firaaq ke lamhen guzarne ke liye,

Humne har kisi se bana ke rakhi hai …!

 

Be’gunaahi ki sazaa kaat raha hu ,

Bas itna hi kaha tha ki wahan laash padi hai …!

 

 Har Shakhs To Faraib Nahi Deta,

Magar ab Aitbaar Zaib Nahi Deta..

 

Bahut Ajeeb Riwaaz Hai Duniyaa Ka Dekho Na Tum
Log Bahut Kuch Batorne Me Lage H Khaali Haath Jaane K Liye

 

बहुत अजीब रिवाज़ है दुनिया का देखो ना तुम
लोग बहुत कुछ बटोरने में लगे है ख़ाली हाथ जाने के लिए

 

Chale Bhi Aao Ke Kal Ka Kuch Aitbaar Nahi

Mareez-e-Hijr Sahar Tak Jiye Na Jiye

 

जो तौर है दुनिया का उसी तौर से बोलो
बहरों का इलाका है ज़रा ज़ोर से बोलो

 

 मैं तुम्हारी कुछ मिसाल तो दे दूँ मगर जानां,

जुल्म ये है कि बे-मिसाल हो तुम

 

 मैंने सब कुछ पाया, बस तुझको
पाना बाकी है,

यूं तो मेरे घर में कुछ कमी नहीं, बस तेरा आना बाकी है

नामालूम

 

 मेरे बस मे नहीं अब हाल-ए-दिल बयां करना,

बस ये समझ लो, लफ़्ज़ कम मोहब्बत ज्यादा हैं

नामालूम

 

मैं चाहता हूँ तुझे यूँ ही उम्र भर देखूं,

कोई तलब ना हो दिल में तेरी तलब के सिवा

नामालूम

 

 लगता है मेरा खुदा मेहरबान है मुझ पर,

मेरी दुनिया में तेरी मौजूदगी यूँ ही तो नहीं है

नामालूम

 

मोहब्ब्ते और भी बढ़ जाती है, जुदा होने से,

तुम सिर्फ मेरे हो, इस बात का ख्याल रखना

नामालूम

 

 मैं राज़ तुझसे कहूँ, हमराज़ बन जा ज़रा

करनी है कुछ गूफतगू, अलफ़ाज बन जा ज़रा

नामालूम

 

 मैने तडप कर कहा “बहुत याद आती हो तुम,

वो मुस्करा कर बोली तुम्हे और आता ही क्या है

नामालूम

 

 नहीं फुर्सत यकीं मानो हमें कुछ और करने की,

तेरी यादें, तेरी बातें बहुत मसरूफ़ रखती हैं मुझें

नामालूम

 

 

Apna ladna bhi mohabbat hai.. tumhein ilm nahi !

cheekhti tum rahi, aur mera gala baith gaya …!

 

 Paaon latkaa ke duniya ki taraf,

aao baithe kisi sitaare par . !



 Tumhe bhi neend si aane lagi hai.. thak gaye hum bhi,

chalo hum aaj ye qissa adhoora chhod dete hai…!

 

 Iss waqt wahan kaun dhuaan dekhne jaaye,

akhbaar mein padh lenge kahan aag lagi thi ..!

 

 Apne darwaaze par khud hi dastaken deta hai woh,

ajnabi lehje mein phir puchta hai “kaun hai” …??

 

 Dost masroof ho gaye itne,

hum ne dushman se raaz kehe daala …!

 

Uss ki aankhen jo kabhi shair sunaane lag jaaye,

jitni ghazlein hai zamane mein, thikaane lag jaaye…!

 

खुद को , खुद ही संभाल कर चलें,,,,,,,,,

जगह जगह पर गिरी है , लोगों की सोच….!!

 

Woh ja raha hai ghar se janaaza buzurg ka,

aangan mein ek darakht puraana nahin raha. !

 

Itni kashish to ho, Nigahe Shauqh mein…!
Saaqi
Idhar dil mein khayal aaye udhar wo be-karrar ho jaye…!!

 

Mera dard, mera hi dard tha.
.
Bahut dard hua ye jaan kar …!

 

Tum mujhe yaad ab nahin aate..

Tum mujhe yaad ho gaye ho ab …!

 

Tum na mausam the na qismat the, na taarikh na din !

Kis ko maloom tha iss tarah badal jaaoge …! ?

 

 लिबासो का शौक़ रखते थे जो कभी

आख़री वक़्त कह न पाए ये कफ़न ठीक नही’

 

 शुक्र है कि मौत सबको आती है

वरना अमीर तो इस बात का भी मजाक उड़ाते कि गरीब था इसलिए मर गया…!!



Din Kaise Bhi Guzaarle Ye Dil,

Tere Kooche Mai Sham Karta Hai..

 

More Status:-

Bill Gates Inspirational Quotes

Best Romantic Love Status For Girls

world best love status

love urdu status

दिन कैसे भी गुजार ले ये दिल,

पर तेरे कूचे में ही शाम करता है

 

मैं तुम्हें चाहता हूँ सिर्फ तुम्हें
कोई मुझको भी चाहता है क्या ?

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

CommentLuv badge
Topstatus4you.com © All rights reserved 2018